शिवकलीबोध में स्वागत

अद्भुत परमेश्वरी आदिशक्ति माँ काली एवं अतितेजस्वी परमेश्वर महादेव शिव की शक्ति असाधारण हैं। निराकार में ये शक्तियाँ सर्वव्यापी हैं और आकर में हम इन्हें ब्रह्माण्ड में समागत असंख्य आकृतियों में देखते हैं। इन ईश्वरीय शक्तियों की प्राकृत प्रत्यक्ष रूप हैं।

 

हममें विद्यमान कुण्डलिनी शक्ति, ईश्वरीय ऊर्जा का स्वरूप ही है, जो सुप्त स्तिथि में हैं। हमारे आत्मा-साक्षात्कार से कुण्डलिनी शक्ति कार्यान्वित होती हैं। इनकी पूर्ण जाग्रति से हमारा ईश्वर संग एकीकरण स्थापित होता हैं। फलस्वरूप, हम अपने विचारों व आचरण में, ईश्वरीय गुणों की अभिव्यक्ति करना आरम्भ कर देते हैं। अततः हमारी कुण्डलिनी शक्ति ही हमें परम आध्यात्मिक सशक्तिकरण प्रदान करती हैं।

 

शिवकलीबोध में हमारे सूक्ष्म शरीर के शुद्धिकरण एवं हमारी चेतना के विकास के लिए कुछ परिभाषित आध्यात्मिक प्रक्रियाएँ निहित हैं। इस आध्यात्मिक प्रणाली के अनुसरण से हमारी प्रभामण्डल एवं सूक्ष्म शरीर के चक्रों व नाड़ीयों की ऊर्जा सक्रिय होती हैं और हमारी कुण्डलिनी जागृत होती हैं। इसके फलस्वरूप हम अपने आध्यात्मिक उत्थान के मार्ग पर अग्रसर होते हैं। सभी साधकों का शिवकलीबोध में स्वागत हैं – वे अपने आंतरिक तीर्थ द्वारा ईश्वरीय एकीकरण की प्रभावशाली उपलब्धि प्राप्त करें और अपना आध्यात्मिक सशक्तिकरण करें।  

Welcome to ShivKaliBodh

ॐ नमः माँ काल्यै I  ॐ नमः शिवाय I

The power of the magnificent Mahadev Shiv, and the marvelous AdiShakti Ma Kali is phenomenal. We were created as reflection of the divine, and this divine power is present in every atom of our physical body, and is the energy of our subtle spiritual body.

The source of our being is our inherent power. This power awakens with our self-realization; it manifests in our actions, and eventually grants us union with the divine. ShivKaliBodh is the spiritual system to take us on our pilgrimage to our inner being. It consists of clearly defined spiritual processes for our purification, and evolvement. It energizes our chakras, auras and channels, awakens our kundalini, and propels us onward to our spiritual ascent.

All are welcome to embark on their spectacular journey to their spiritual empowerment and union with Shiv, and divine mother, Kali.

हमारे आत्म-साक्षात्कार व ईश्वरीय एकीकरण से, ईश्वरीय प्रेम और दिव्य गुण हमारे विचारों और आचरण में अनायास ही जागृत हो, प्रदर्शित होने लगते हैं, और नकारात्मक विचारधाराएँ दूर होने लगती है। ईश्वरीय प्रेम और दिव्य गुणों की अभिव्यक्ति ही, शिवकालीबोध में हमारी आध्यात्मिक प्रगति का, प्रत्याक्ष परिणाम है। स्वप्रथम, पांच प्रकृति तत्वों द्वारा प्रदर्शित गुण, हमारे भीतर प्रकाशित होते हैं।

Read More

हमारे आत्म-साक्षात्कार व ईश्वरीय एकीकरण से, ईश्वरीय प्रेम और दिव्य गुण हमारे विचारों और आचरण में अनायास ही जागृत हो, प्रदर्शित होने लगते हैं, और नकारात्मक विचारधाराएँ दूर होने लगती है। ईश्वरीय प्रेम और दिव्य गुणों की अभिव्यक्ति ही, शिवकालीबोध में हमारी आध्यात्मिक प्रगति का, प्रत्याक्ष परिणाम है। स्वप्रथम, पांच प्रकृति तत्वों द्वारा प्रदर्शित गुण, हमारे भीतर प्रकाशित होते हैं।

Read More

हमारा आध्यात्मिक शरीर परमात्मा की एक अद्भुत रचना है। यह सात चक्र, तीन नाड़ीयाँ, भवसागर, कुण्डलिनी शक्ति और ईश्वरीय प्रभामण्डल से निहित है। हमारे सूक्ष्म शरीर की ऊर्जा का शुद्धिकरण एवं संतुलन ही हमारे स्वस्थ, वैभव और खुशहाल जीवन की कुंजी है।

Read More

माँ काली व महादेव शिव को 25 वर्षों की समर्पित पूजा के आशीर्वाद से, भाईगुरु महेश को, शिवकालीबोध की प्राप्ति हुई। यह हमारे आध्यात्मिक उत्थान की अत्यंत प्रभावी प्रणाली है, जिसके अनुसरण से हम आनंदमय जीवन व्यतीत कर, अंततः मोक्ष प्राप्त कर सकते हैं।

Read More

Our spiritual body is an amazing creation of the divine – with the seven energy centers (chakras), three channels, the void, the coiled kundalini and the divine auras. The correct balance in the energy of these different elements of our subtle body is the key to good health, wealth and happy blissful life.

Read More

After 25 years of dedicated worship to AdiShakti Ma Kali, and Mahadev Shiv, BhaiGuru Mahesh was blessed with ShivKaliBodh. It is a very effective spiritual system for our spiritual evolvement. By following it, we can lead a blissful life, and ultimately attain salvation.

Read More

प्रकाशन

शिवकालीबोध के तत्त्वज्ञान को जानने और निर्धारित आध्यात्मिक प्रणाली को सीखने के लिए, भाईगुरु महेश लिखित पुस्तकें पढ़ें, जो यहाँ सूचीबद्ध हैं।

ब्लोग्स

भाईगुरु महेश की आध्यात्मिक यात्रा विविध अनुभवों से सुसज्जित है। इन ब्लोग्स में इन्होंने अपने जीवन का सफर पारिवारिक, साधक और प्रतिपालक की दृष्टि से साँझा किया है।

भजन

भाईगुरु महेश को परमात्मा की स्तुति में भजन लिखने का आशीर्वाद प्राप्त है। आप हमारे YouTube चैनल पर इन्हें सुन सकते हैं। ध्यान व चिंतन करते हुए, इन भजनों का आनंद लें।   

प्रवचन

भाईगुरु महेश आध्यात्मिकता के विभिन्न पहलुओं को स्पष्ट करते हैं। हमारे YouTube चैनल पर इन प्रवचनों में इन्होंने अपने आध्यात्मिक विचारों, सीख और प्राप्तियों को साझा किया है।

English